Dard Bhari Shayari | Love Shayari

 Dard Bhari Shayari | Love Shayari

प्यार में दर्द आम बात है चाहे वो किसी भी वजह से हो धोखे के वजह से हो या प्यार में दूरी की वजह से हो एक ही बात है दर्द बहुत होता है जिसे बयां करना भी काफी हद तक मुश्किल होता है। ऐसी मुश्किल घड़ी में दर्द Dard Bhari Shayari या यूँ कह लो Love Shayari बड़ी काम में आती है हाले-दिल बताने के लिए।  अधिकतर प्यार में दर्द पाए लोग इन शायरी को सर्च करते हैं। Dard Bhari Shayari | Love Shayari ke liye is post ko last tak padhe.


Dard Bhari Love Shayari

कुछ खास नही बस इतनी सी है मोहब्बत मेरी,
हर रात का आखरी खयाल और हर सुबह की पहली सोच हो तुम..!

Love Shayari Image
Love Shayari Image

Kuchh khas nahi bas itni si hai mohobat meri,
Har rat ka akhri khyal or har subah ki peheli soch ho tum..!

Afsos Love Shayari

मुकम्मल हो ही नही पाती कभी..तालीमे मोहब्बत,*
यहां उस्ताद भी..ताउम्र शागिर्द ही रहता है..!

Love Shayari Image
Love Shayari Image
Muqamal ho hi nahi pati kabhi taleeme mohobat,
Yahan ustaad bhi ta-umr shagird hi raheta hai..!

होश - ए - हवास Love Shayari


होश - ए - हवास पे तो काबू कर लिया मैंने,
उन्हें देख के फिर होश खो गाए तो क्या होगा..!

Love Shayari Image
Love Shayari Image
Hosh-a-havas pe to kabu kar liya maine,
Unhe dekh ke fir hosh kho jaye to kya hoga..!

अल्फ़ाज़ ही समझाने Love Shayari


अल्फ़ाज़ ही समझाने हो तो ग़ैर ही काफ़ी हैं,
ख़ामोशी को समझे, ऐसा अपना होना चाहिए..!


Alfaz hi samjhane ho to gair hi kafi hn,
Khamoshi ko samjhe aisa apna hona chahiye..!


आग लगाना मेरी फितरत में नहीं है,
मेरी सादगी से लोग जलें तो मेरा क्या कसूर..!


Aag lagana meri fitrat me nahi hai,
Meri sadgi se log jalen to mera kya kasoor..!


Mohobbat Love Shayari


मोहब्बत सब्र के अलावा कुछ नहीं,
मैंने हर इश्क को इंतज़ार करते देखा है..!


Mohabbat sabr ke alawa kuchh nahi,
Maine har ishk ko intazar karte dekha hai..!



हो मुक़म्मल हर दास्तां ये तो मुमकिन नही,
कुछ किस्से अधूरे ही लाज़वाब लगते हैं..!



Ho muqmmal har dastan ye mumkin nahi,
Kuchh kisse adhoore hi lazawab hote hn..!


ज़मानत मिल गई Love Shayari


हजारो अश्क थे मेरी आँखों की हिरासत में,
किसी की याद आई और इनको ज़मानत मिल गई..!


Hajaro ashk the meri aakhon ki hirasat me,
Kisi ki yaad aai or inko zamanat mil gai..!



यही तो ज़माने का उसूल है,
ज़रूरत है तो खुदा, वरना बाँदा फ़िज़ूल है...!


Yahi to zamane ka usul hai,
Zarurat hai to khuda, warna banda fizul hai...!


Dard Bhari Love Shayari in hindi


ठहाके न जाने कहाँ छोड़ आये हैं हम,
तेरे शहर में रिवाज़ तो बस मुस्कराने का है..!


Thahake na jane kahan chhod aye hain hum,
Tere shaher me riwaz to bas muskrane ka hai..!



तुम्हारे पैरों की ख़ाक उठाकर सुरमा लगाउंगा,
तब तो मानोगी इश्क है तुमसे..!


Tumhare pairon ki khaak uthakar surma lagaunga,
Tab to manogi ishk hai tumse..!


बस दीवानगी की खातिर आते हैं तेरी महफ़िल में,
वरना आवारगी के लिए तो सारा शहर पड़ा है..!

Bas deewangi ki khatir ate hain teri mehefil me,
Warna aawargi ke liye to sara shaher pada hai..!



हुस्न के क़सीदें तो गढ़ती रहेगीं महफिलें,
झुर्रियां भी प्यारी लगे तो मान लेना इश्क़ है..!

Husn ke qaseede to gadhati rahengi mahefilen,
Jhurriyaan bhi pyaari lage to maan lena ishq hai..!



ना सफेद बाल कायम रहेंगे, ना ही गोरे हाथ,
कभी मिट ना पाएगी ए मुस्कराहट झुरीयों के साथ..!

Na safed baal kaayam rahenge, na hi gore haath,
Kabhi mit na paegi ye muskraahat jhuriyon ke saath..!



यूँ ज़िद न कर मेरी दास्ताँ सुनने की,
मै हंस के सुना दूंगा तुम रोने लगोगे..!

Yun zid na kar meri dastan sunne ki,
Mai hans ke suna dunga tum rone lagoge..!



आईना आज फिर रिसवत लेते पकड़ा गया,
दिल में दर्द था और चेहरा हंसता हुआ पकड़ा गया..!

Aaina aaj Fir riswat lete pakda gaya,
Dil mein dard tha aur chehra hansta hua pakda gaya..!


0 Comments: