Sad Two Line Shayari

 Sad Two Line Shayari In Hindi

In this blog post we sharing collection of Sad two line shayari in hindi. who fall in love mostly peoples loves two line shayari which is best way to express your feelings front of his lover. don't hesitate to copy these Sad two line shayari and pas your status or post on social media because these are a  absolutely free.


अपनी हालत का खुद एहसास नहीं है मुझ को,
मैं ने औरों से सुना है के परेशां हूँ मैं..!

apni haalat kaa khud ehsaas nahin hai mujh ko,
main ne auron se sunaa hai ke pareshaan hun main..!



Dard bhari two line shayari 


sad

उस ने पूछा था क्या हाल है,
और मैं सोचता रह गया..!

us ne puchhaa thaa kyaa haal hai,
aur main sochtaa rah gayaa..!



sad

तुम क्या जानो अपने आप से कितना मैं शर्मिंदा हूँ,
छूट गया है साथ तुम्हारा और अभी तक ज़िंदा हूँ..!

tum kyaa jaano apne aap se kitnaa main sharmindaa hun,
chhut gayaa hai saath tumhaaraa aur abhi tak jindaa hun..! 



sad


मौत के नाम से… सुकून मिलने लगा,
जिंदगी ने… कम नही सताया हमको..!

maut ke naam se… sukun milne laga,
jindgi ne… kam nahi sataayaa hamko..!

sad

मुझ से नफरत है अगर उस को तो इज़हार करे,
कब मैं कहता हूँ मुझे प्यार ही करता जाये..!
mujh se napharat hai agar us ko to ejhaar kare,
kab main kahtaa hun mujhe pyaar hi kartaa jaaye..!



sad

जिद में आकर उनसे ताल्लुक तोड़ लिया हमने,
अब सुकून उनको नहीं और बेकरार हम भी हैं।

Jid Mein Aakar Unse Taalluk Tod Liya Hamne,
Ab Sukoon Unko Nahin Aur Bekaraar Ham Bhi Hain..!



sad

किसी को तलाशते तलाशते खुद को खो देना,
आंसा है क्या आशिक हो जाना..!

Kisi Ko Talashte Talashte Khud Ko Kho Dena,
Aansa Hai Kya Aashiq Ho Jaana..!



sad

दो शब्द तसल्ली के नहीं मिलते इस शहर में,
लोग दिल में भी दिमाग लिए घूमते हैं..!

Do Shabd Tasalli Ke Nahi Milte Is Shahar Mein,
Log Dil Mein Dimaag Liye Ghoomte Hain..!


sad

ख्वाहिशों का मोहल्ला बहुत बड़ा होता है,
बेहतर है हम जरूरतों की गली में मुड़ जाएं..!

Khwahishon Ka Mohalla Bahut Bada Hota Hai,
Behtar Hai Ham Jarooraton Ki Gali Mein Mud Jaen..!




sad

बिगाड़ के रख देती है ज़िन्दगी का चेहरा,
ए-मोहब्बत... तू बड़ी तेजाबी चीज़ है..!

Bigaad Ke Rakh Deti Hai Zindagi Ka Chehara,
Ai-Mohabbat... Tu Badi Tejaabi Cheez Hai..!



sad


कौन हूँ मैं.... ऐ जिंदगी तू ही बता,
थक गया हूँ मैं खुद का पता ढूँढते ढूंढ़ते..!

Kaun Hun Main.... Ai Zindgi Tu Hi Bata,
Thak Gaya Hun Main Khud Ka Pata Dhoondhte Dhoondhte..!


भीड़ में भी उदास दिखते हो.. इश्क़ में बर्बाद लगते हो…

छोड़ दी, वो तमाम आदते जो दुःख देती थी….. सिवा, एक तुझे चाहने की…

Kabhi kabhi kitni baatein Karni hoti hai, Lekin koi sunne wala hi Nahi hota.

Tumse Lipat kar Ro lete, Magar Kambakht In Dooriyon Ne Humse Ye Haqq Bhi Cheen Liya..!!




0 Comments: